( 14/11/2021)  द्वारका जिले की महिला सिंघम सरोज सिंह ने जवाबी फायरिंग में दो दर्जन से अधिक केसो के आरोपी को गोली मारकर दबोचा, वही जिले की पुलिस ने बलात्कार के झूठे केस में बंद कराने की धमकी देकर जबरन वसूली करने वाले गैंग के सदस्यों को गिरफ्तार किया। ( INSMEDIA.IN )

 

द्वारका जिले की महिला सिंघम सरोज सिंह ने जवाबी फायरिंग में दो दर्जन से अधिक केसो के आरोपी को गोली मारकर दबोचा, वही जिले की पुलिस ने बलात्कार के झूठे केस में बंद कराने की धमकी देकर जबरन वसूली करने वाले गैंग के सदस्यों को गिरफ्तार किया।

(प्रदीप महाजन/आईएनएस मीडिया) दिल्ली पुलिस की महिला पुलिसकर्मी भी किसी तरह से कम नहीं है। द्वारका जिले के उपायुक्त शंकर चौधरी से मिली जानकारी के अनुसार जिले में आरोपी अरमान ने झपटमारी करके आंतक मचाया हुआ था। पुलिस को जानकारी मिली कि वह काली पल्सर मोटरसाइकिल पर आता है और महिलाओ की चेन को तोड़कर भाग जाता है। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करके आरोपी को पकड़ने के लिए एक टीम गठित की और इस टीम में महिला सब इंस्पेक्टर सरोज सिंह को भी शामिल किया। एक मिली सूचना पर महिला सब इंस्पेक्टर सरोज सिंह खुद शिकार बनकर सोने की चेन पहनकर मार्केट में घूमने लगी जैसे ही आरोपी अरमान ने चेन को तोड़ने की कोशिश की सरोज सिंह और अन्य पुलिस कर्मियों ने उसे पकड़ने की कोशिश की। जब आरोपी ने अपने आपको पुलिसके शिकंजे में घिरा देखा तो उसने अपनी पिस्टल निकालकर फायरिंग शुरू कर दी।फिर पुलिस की जवाबी फायरिंग में महिला एसआई ने उसके पेअर में गोली मारकर उसे दबोच लिया। आरोपी अरमान पर विभिन्न थानो में दो दर्जन से भी ऊपर केस दर्ज है। 
वही दूसरी और द्वारका जिले ने दो लाख की जबरन वसूली के मामले में ललित,जॉनी,संजू और दो महिलाओ पूजा शर्मा और रौशनी को गिरफ्तार किया है। इस गिरोह की महिला सदस्य अपने शिकार से  दोस्ती करके उसे अपनी जगह पर बुलाकर उससे शारीरिक संबंध स्थापित कर लेती थी फिर ये गैंग पीड़ित को झूठे बलात्कार के मामले में फंसाने की धमकी देकर पैसे वसूल करते थे।

Back