बैखोफ बदमाशो ने पुलिस वालों को पीटा, घसीटा पिस्टल छीनी, बदमाश गिरफ्तार।      जम्मू कश्मीर के पहले उपराज्यपाल बने आईपीएस विजय कुमार।      मोदी जी कश्मीर मुद्दे पर सुतली बम ना बनना।      सीपी पटनायक ने दिल्ली में आंतकी हमले के मद्देनजर करी हाई लेवल मीटिंग।      सिपाही को अपनी रक्षा के लिए गोली चलानी पड़ी।      इंदिरापुरम थाने के 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड,कपल से मांगे 20 हजार रुपये।      पुलिस कस्टडी से फरार हुए भगोड़े आरोपी को दोबारा गिरफ्तार किया।      दिल्ली के उपराज्यपाल के PA से ठगी।       डॉक्टर को ब्लैकमेल करने वाले 2 युवतियों सहित 4 लोग गिरफ्तार।      श्रीनिवास बने युवा कांग्रेस के अध्यक्ष।      MLA से 3 करोड़ की रंगदारी मांगने वाला पत्रकार गिरफ्तार।            अभी दीवार गिरी, क्या निगम को इंतजार किसी बड़े हादसे का      सीबीआई ने सीबीआई के ही 19 अफसरों पर मुकदमा दर्ज किया।      दिल्ली पुलिस के करप्ट और लापरवाह पुलिसवालों को जबरन रिटायर किया जाएगा।      घर बैठे चालान भरे,ई चालान सिस्टम अब शुरू-सीपी पटनायक।      22 पूर्व कैडेटों को मिला एनसीसी अचीवर्स अवार्ड 2019      MHA ने आईएएस,आईपीएस अधिकारियों की ट्रांसफर/पोस्टिंग की।      पुलिस को पीटने वाले उनको माँ बहन की गाली देने वालो के साथ पुलिस अधिकारी,अफसरों ने पुलिस का भय खत्म किया दिया।           

( 24/07/2019)  (Pradeep Mahajan) अभी दीवार गिरी, क्या निगम को इंतजार किसी बड़े हादसे का

 
अभी दीवार गिरी, क्या निगम को इंतजार किसी बड़े हादसे का

अभी दीवार गिरी, क्या निगम को इंतजार किसी बड़े हादसे का।
(प्रदीप महाजन)आज पूर्वी दिल्ली मंडावली इलाके में एक निर्माणाधीन इमारत गिरी,कोई हताहत नही हुआ,मोके पर पुलिस और निगम के अधिकारी पहुंचे। गौरतलब है कि निगम,पुलिस और बिल्डर माफिया के गठबंधन से शाहदरा दक्षिणी के हर वार्ड में भवन नियमो का उल्लंघन कर के सैकड़ो अवैध निर्माण नक्शे और बिना नक्शे के चल रहे हैं।उच्च अधिकारी बंदरबांट नीति के तहत निगम के भवन विभाग के अभियन्ताओं पर कोई कार्यवाही नही कर रहे हैं।शिकायत मिलने या कार्यवाही के नाम पर कॉस्मेटिक्स डेमोलाशन किया जा रहा है।सूत्रों के अनुसार इस अवैध निर्माण की उगाही में निगम के बेलदार से लेकर JE,AE, EX.ENG SE, DC, कथित RTI ACTIVIST,कथित समाजसेवी, कथित छोटे-बड़े पत्रकार कथित निगम पार्षद लिप्त हैं।गौरतलब है कि लक्ष्मी नगर ललिता पार्क  में कुछ वर्ष पहले कई दर्जनों जाने बिल्डिंग हादसे में गई थी लेकिन निगम अधिकारी उसको सबक ना मानते हुए बिल्डर माफिया को सरंक्षण देने में लगे हुए है।शायद ललिता पार्क से भी बड़े हादसे का इंतज़ार कर रहे हैं।शाहदरा दक्षिणी के हर वार्ड में भवन अभियन्ताओं ने कई नामी बेलदार उगाही के लिये लगा रखे हैं।जो बिल्डर और निगम के अधिकारियों के बीच मांडवाली का कार्य करते हैं।क्या निष्पक्ष जांच एजेंसी इस कार्यकलापों पर अंकुश लगाएगी....READ STORY ON WWW.INSMEDIA.ORG

Back