40 हजार रिश्वत लेते हुए सीबीआई ने ASI बबिता को पकड़ा।       गैंगवार@द्वारका,दिल्ली में आटोमेटिक हथियार,CP सो रहे हैं।      गैंगस्टर विजय फरमाना को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने हथियार समेत गिरफ्तार किया I      ये क्या हो रहा है, राजनाथ,पटनायक साब........      दिल्ली पुलिस के सिपाही धर्मवीर का किडनैप?      नकारा आईपीएस पर गिरेगी गाज,उन्हें समय से पहले हटाया जाएगा।      सब इंस्पेक्टर ने खुद को गोली से उड़ाया,कमिश्नर, गृह मंत्रालय सोया हुआ।      टॉप टेन गैंगस्टर परमजीत को गोली मारकर पुलिस ने किया गिरफ्तार ।      दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल ने खुद को उड़ाया।       लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार जासूसों और बाबाओ की शरण में I       डेटिंग एप्प,सोशल मिडिया की ठरकी दीवानी औरतो के लिए सबक है मीनू मर्डर केस !      पार्षद की वजह से बीजेपी उम्मीदवार गंभीर को दिखाए काले गुब्बारे       लवली की जीत में भितरघाती विभीषण सबसे बड़े रोड़े !      कथित पत्रकारों की PIB ,DIP कार्ड की जांच हो,बिहार बालिका गृह के आरोपी की PIB पत्रकार मान्यता रद्द की गई I       ये क्या हो रहा है सी पी साब....sho घूस लेते पकड़ा I      12 वर्ष से कम उम्र की बच्ची से रेप के अपराध में मृत्यु दंड की सजा,लोकसभा में बिल पास I       सेफमा कानून के तहत भगोड़े दाऊद की नौ संपत्तियों की नीलामी की जायेगी            16 नेपाली लड़कियों को दिल्ली महिला आयोग ने बचाया I      जिला पुलिस उपायुक्त बिल्डिंग से गिरा प्लास्टर, रेनोवेशन के नाम पर भ्र्ष्टाचार I      

( 26/04/2019)  (Pradeep Mahajan) लवली की जीत में भितरघाती विभीषण सबसे बड़े रोड़े !

 
लवली की जीत में भितरघाती विभीषण सबसे बड़े रोड़े ! (आईएनएस मीडिया )दिल्ली की राजनीति के दिग्गज रहे एच के एल भगत,राम बाबू शर्मा, डॉ अशोक कुमार वालिया की छत्र छाया में नेता अरविंदर सिंह लवली ने अपना सितारा चमकाया और जनता में साख भी बनाई है जिसमे भगत और शर्मा जी अब इस दुनिया में नहीं रहे,वही डॉ अशोक वालिया से समय समय पर लवली सलाह लेता रहता है, लवली ने सारे गुर भगत,राम बाबू,वालिया से सीखे थे

जिसमे सबसे बड़ा गुर था कि विरोधियो को कैसे ठिकाने लगाया जाये और अपनी राजनीति में उन्होंने विरोधियो को तो ठिकाने लगाया ही साथ ही पूर्वी दिल्ली के कई कोंग्रेसी दावेदारों को भी ठिकाने लगा दिया था,गौरतलब है कि लवली को जहा कांग्रेस ने कई महत्वपूर्ण पदों पर बिठाया वही लवली ने नाराज होकर कांग्रेस पार्टी को इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थाम लिया था फिर कुछ अर्से बाद डॉ वालिया,हारून युसूफ,माकन आदि ने लवली की कांग्रेस में वापिसी कराई ,वही  आलाकामन ने अपना भरोसा जताते हुए अरविंदर सिंह लवली को पूर्वी दिल्ली लोकसभा का उम्मीदवार बनाया है, लेकिन वापिसी के बाद लवली के कई धुर विरोधी सक्रिय हो गए थे जिनसे लवली को इस चुनाव में बड़ा खतरा है ये जानते हुए भी लवली को उनको साथ लेकर चलना मजबूरी है क्योकि जनता में नहीं तो गलत संदेश जाएगा,परन्तु राजनितिक जानकारों का कहना है कि ये भितरघाती लवली को बड़ा नुक्सान दे सकते है,जब इस बात पर बात की तो उनका कहना है कि विश्वास से बड़ी कोई बात नहीं होती वही वरिष्ठ नेता और उनके राजनैतिक गुरु डॉ अशोक वालिया का मानना है कि पार्टी के विरोधी हर पार्टी में होते है और उनका ये ही इलाज है कि चुनाव में उनको कोई भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी ना दी जाए जिससे पार्टी और उम्मीदवार को कोई नुकसान हो,अब ये तो आने वाला समय बताएगा कि चुनावी ऊठ किस ओर बैठेगा I   

Back